जनता हाहाकार कर रही और भाजपा हुक्मरान चैन की बंसी बजाने में मस्त : राजेंद्र राणा #news4
August 6th, 2022 | Post by :- | 127 Views

सुजानपुर : सुजानपुर के विधायक व प्रदेश कांग्रेस कमेटी के कार्यकारी अध्यक्ष राजेंद्र राणा ने आज सुजानपुर विधानसभा क्षेत्र में रंगड़ व दाड़ला पंचायत के ग्रामीण क्षेत्रों के दौरे के दौरान भाजपा पर करारे प्रहार किए और लोगों से आगामी विधानसभा चुनाव में भाजपा को करारा सबक सिखाने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि देश की जनता कमरतोड़ महंगाई और बेरोजगारी के साथ-साथ भाजपा हुक्मरानों के तानाशाही रवैया से हाहाकार कर रही है लेकिन भाजपा नेता जनता की पीड़ा को नजरअंदाज करके चैन की बंसी बजाने में मस्त है।

राजेंद्र राणा ने कहा कि देश में जिस तरह के हालात भाजपा सरकार ने बना रखे हैं , उसमें अकेले कांग्रेस पार्टी ही सड़कों पर उतर कर जनता के हितों की आवाज उठा रही है और संघर्ष में डटकर जनता का साथ दे रही है। राजेंद्र राणा ने कहा कि महंगाई पर लगाम लगाने का नारा देकर सत्ता में आई भाजपा सरकार ने देश की अर्थव्यवस्था को भी तबाही के कगार पर ला खड़ा किया है। डॉलर 80 रुपए से ऊपर चला गया है। गैस सिलैंडर के दाम आए दिन आसमान छू रहे हैं। खाने-पीने की चीजों पर सरकार ने टैक्स थोंपकर गरीब का निवाला छीनने की कोशिश की है। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार के दमनकारी रवैया से जनता को पीड़ा से कराहने की भी इजाजत नहीं है। उन्होंने कहा सरकार के खिलाफ आवाज उठाने वालों को आज केंद्रीय जांच एजेंसियों की तरफ से प्रताड़ित करवा कर लोकतंत्र का गला घुटने की कोशिश की जा रही है, जो अत्यंत दुर्भाग्यपूर्ण है।

राजेंद्र राणा ने कहा कि जनता के सब्र का प्याला छलकने वाला है और इसी साल प्रदेश में हो रहे विधानसभा चुनावों में जनता अपने वोट की ताकत से भाजपा को करारा सबक सिखाने के लिए तैयार बैठी है। इस मौके पर उन्होंने ग्राम पंचायत रंगड़ के गांव कंग्राल में संपर्क मार्ग के निर्माण के लिए 5 लाख रुपए, कटोच बस्ती पक्खी में रास्ते के निर्माण के लिए 2.50 लाख रुपए, भाटी से एससी बस्ती रंगड़ में रास्ते के निर्माण के लिए 1.50 लाख रुपए, भटियाणा राजपूतां में रास्ते के निर्माण के लिए 1.50 लाख रुपए, रंगड़ स्कूल के शौचालय से लेकर एससी बस्ती तक रास्ते के निर्माण के लिए 2.50 लाख रुपए देने की घोषणा की।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।