बाहर फंसे हिमाचलियों की चरणबद्ध तरीके से होगी वापसीः वीरेंद्र कंवर
April 25th, 2020 | Post by :- | 212 Views

बाहर से लाए जाने वालों की होगा मेडिकल जांच, क्वारंटीन में भी रहना होगा
ऊना (25 अप्रैल)- ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कहा है कि बाहर से लाए जा रहे व्यक्तियों की सबसे पहले मेडिकल जांच कराई जाएगी और उसके बाद उन्हें 14 दिन के क्वारंटीन में रखा जाएगा। उन्होंने कहा कि कोटा से हिमाचली विद्यार्थियों को वापस लाने की प्रक्रिया के बाद चरणबद्ध तरीके से बाकी क्षेत्रों में फंसे हिमाचलियों को भी वापस लाया जाएगा।
वीरेंद्र कंवर ने कहा कि जिला ऊना में अब तक 16 व्यक्ति कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं और इनमें से 8 व्यक्तियों का सफलतापूर्वक इलाज किया गया। अब जिला के 8 एक्टिव केस रह गए हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना के चलते जिला ऊना में कर्फ्यू को भरपूर सहयोग मिल रहा है।
पंचायतों ने दिया भरपूर सहयोग
ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज मंत्री वीरेंद्र कंवर ने कहा कि पंचायत प्रतिनिधियों ने समाज में कोरोना के प्रति जागरूकता लाने में सक्रिय भूमिका निभाई। लोगों को जहां कोरोना से बचाव के प्रति जागरूक किया, वहीं बाहर ने चोरी-छुपे आने वाले लोगों के बारे में प्रशासन को सूचना भी प्रदान की।
जिला ऊना ने बढ़-चढ़ कर किया सहयोग
ग्रामीण विकास मंत्री ने कहा कि कोरोना महामारी से निपटने के लिए जिला ऊना के दानियों ने बढ़चढ़ कर योगदान दिया है। जिला आपदा राहत कोष में 24 अप्रैल 2020 तक 46.26 लाख रुपए प्राप्त हुए हैं। सीएम रिलीफ फंड में जिला ऊना से 4.07 लाख रुपए तथा पीएम केयर्स फंड में 1.91 लाख रुपए दान में दिए गए हैं। इसके अलावा चिंतपूर्णी मंदिर की ओर से मुख्यमंत्री राहत कोष में 5 करोड़ रुपए की धनराशि प्रदान की गई है।
कंवर ने कहा कि इसके अलावा लोगों के माध्यम से आटा, चावल, दाल, चीनी, नमक व मसालों सहित कुल 1512 क्विंटल राशन दान से प्राप्त हुआ, जबकि 695 क्विंटल राशन जिला प्रशासन ने खरीदा है। इसके अलावा 5,234 लीटर खाद्य तेल दान से जबकि 7,602 लीटर खाद्य तेल खरीदा गया। जिला ग्रामीण विकास अभिकरण विभाग के माध्यम से अब तक जरूरतमंदों को 19,959 राशन के पैकेट वितरित किए गए।
हॉटस्पॉट पंचायतों में डोर-टू-डोर डिलिवरी
वीरेंद्र कंवर ने कहा कि अंब उपमंडल की हॉटस्पॉट पंचायतों कुठेड़ा खैरला, राजपुर जसवां, पंजोआ लडोली व कटोहड़ खुर्द में 1676 उपभोक्ताओं को पीडीएस के तहत 256 क्विंटल आटा, 264 क्विंटल चावल, 36 क्विंटल चीनी, 49 क्विंटल दालें व 3104 लीटर खाद्य तेल, 16 क्विंटल नमक सहित रसोई गैस के सिलेंडर की डोर-टू-डोर आपूर्ति की गई।
उन्होंने कहा कि बंगाणा उपमंडल की हॉटस्पॉट पंचायत चौकी मन्यार में 490 उपभोक्ताओं को पीडीएस के माध्यम से 60 क्विंटल आटा, 73 क्विंटल चावल, 9.50 क्विंटल चीनी, 14 क्विंटल दालें, 950 लीटर खाद्य तेल, 5 क्विंटल नमक व रसोई गैस के सिलेंडरों की डोर-टू-डोर आपूर्ति की गई।
28 हजार को मिली सामाजिक सुरक्षा पेंशन
ग्रामीण विकास एवं पंचायती राज वीरेंद्र कंवर ने कहा कि कर्फ्यू के दौरान मोबाइल पोस्ट ऑफिस वैन के माध्यम से सामाजिक सुरक्षा पैंशन लाभार्थियों के घर-द्वार पर जाकर पैंशन प्रदान की गई। जिला के डाकघरों में 30 हजार पैन्शन धारकों के खाते हैं और इनमें से 28 हजार लाभार्थियों को पैंशन का वितरण कर दिया गया है। मोबाइल पोस्ट ऑफिस वैन के माध्यम से 5000 लाभार्थियों को पेंशन प्रदान की गई है।
घर पर ही मनाएं रमजान
वीरेंद्र कंवर ने कहा है कि रमजान के महीने के दौरान सभी मुस्लिम समुदाय के लोग घर पर रहकर ही नमाज अदा करें। प्रदेश सरकार ने किसी भी तरह के धार्मिक कार्यक्रम के आयोजन तथा भीड़ जमा करने पर पूर्ण पाबंदी लगा रखी है। ऐसे में सभी को इसमें सहयोग करना चाहिए। इस अवसर पर अतिरिक्त उपायुक्त अरिंदम चौधरी भी उपस्थित रहे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।