खुल कर जीना चाहती है, लेकिन जिस तरह मानवता को शर्मसार करने वाले दरिंदे नारी का शोषण करने पर उतारू हैं, इस बात को लेकर प्रदेश की नारी आम जनमानस चुप नहीं बैठेगा। हम न्याय चाहते हैं दरिंदों को फांसी दो दरिंदों को जला दो। यह कहना है सुजानपुर महाविद्यालय की छात्राओं का। मंगलवार को महाविद्यालय सुजानपुर के सैकड़ों छात्र-छात्राओं ने वी वांट जस्टिस का नारा बुलंद करते हुए शहर में एक रोष पूर्ण रैली निकाली नारे लगाकर वहशी दरिंदों के खिलाफ जमकर गुबार निकाला। छात्राओं ने एक स्वर में कहा कि एक तरफ बेटी पढ़ाओ बेटी बचाओ का अभियान है, वहीं दूसरी तरफ कुछ लोग ना बेटी को पढ़ाना चाहते हैं, ना बेटी को बचाना चाहते हैं, जिसे सहन नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि जिस तरह हैदराबाद में दरिंदों ने एक महिला डॉक्टर को क्रूरता के साथ अपनी हवस का शिकार बनाया है, फिर उसे जिंदा जला दिया गया, उससे पूरे देश की नारी का अपमान हुआ है। केंद्र की सरकार से मांग है कि इस कृत्य को करने वालों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाए, ताकि भविष्य में इस तरह की कोई हरकत करने वाला सौ बार इसको करने से पहले सोचे।
December 3rd, 2019 | Post by :- | 142 Views

गगरेट थाना के अंतर्गत एक व्यक्ति ने आत्महत्या कर ली। पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। अभी तक आत्महत्या के कारणों का पता नहीं चल पाया है। वहीं, मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है। जानकारी के अनुसार यह व्यक्ति गगरेट में सुनार की दुकान करता था। बताया जा रहा है कि इस व्यक्ति ने आत्महत्या करने के लिए पहले जहर निगला।

वहीं, इसके बाद स्वयं ही मिट्टी का तेल डालकर अपने आप को आग लगा ली, जिससे यह व्यक्ति बुरी तरह से झुलस गया। आग की चपेट में आने के बाद गंभीर हाल में इसे उपचार के लिए गगरेट स्वास्थ्य केंद्र पहुंचाया गया। वहां से उसे क्षेत्रीय अस्पताल ऊना के लिए रैफर कर दिया, लेकिन उसने दम तोड़ दिया। उधर, डीएसपी हैडक्वार्टर अशोक वर्मा ने कहा कि अभी तक मौत के कारणों का पता नहीं चल पाया है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।