हिमाचल में एक और जमाती कोरोना पॉजिटिव, टांडा में भर्ती संक्रमित महिला की रिपोर्ट भी आई
April 5th, 2020 | Post by :- | 275 Views

हिमाचल प्रदेश में कोरोना वायरस के रविवार को 26 सैंपल की जांच की गई। इनमें से एक पॉजीटिव पाया गया है। डॉक्टर राजेंद्र प्रसाद मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल टांडा में 21 सैंपल लिए गए थेे, जिनमें से एक पॉजिटिव व 20 की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। आइजीएमसी शिमला में पांच सैंपल की जांच की गई व सभी की रिपोर्ट नेगेटिव आई।

धर्मशाला अस्पताल में उपचाराधीन निजामुद्दीन मरकज से लौटे तब्लीगी जमाती की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। यह युवक नूरपुर क्षेत्र का रहने वाला है। नूरपुर क्षेत्र से छह लोग निजामुद्दीन गए थे, जिनमें से पांच की रिपोर्ट नेगेटिव आई थी, जबकि एक की पाॅजिटिव आई है। कोरोना पॉजिटिव मरीज सलीम मोहम्मद नूरपुर के इंदौरा क्षेत्र का है। 40 वर्षीय शख्स 16 मार्च को तब्लीगी जमात में भाग लेकर घर लौटा था। संक्रमित मरीज को धर्मशला क्षेत्रीय अस्पताल से टांडा के लिए रेफर कर दिया गया है।

तीन तब्लीगी जमाती ऊना में सामने आए थे, जो मंडी जिला के रहने वाले हैं। इसके अलावा शनिवार को नालागढ़ में भी तीन जमाती पॉजिटिव पाए गए हैं। आज रविवार को जिला कांगड़ा के इंदौरा में सातवां जमाती कोरोना पॉजिटिव पाया गया है।

इसके अलावा टांडा अस्पताल में उपचाराधीन संक्रमित महिला की दूसरी रिपोर्ट भी नेगेटिव आई है। अब चिकित्सक महिला को कुछ दिन में डिस्चार्ज कर सकते हैं। जिला कांगड़ा के शाहपुर क्षेत्र की यह महिला दुबई से लौटी थी व करीब 21 तारीख से यह टांडा अस्पताल में उपचाराधीन है।

हिमाचल प्रदेश में लिए गए सैंपल के आधार पर अब 14 मामले पॉजिटिव हो गए हैैं। हालांकि बद्दी में रह रही महिला को मिलाकर कुल मामले 15 बनते हैं। उक्त महिला का सैंपल पीजीआइ चंडीगढ़ में लिया गया था व वहीं उपचार के दौरान उसकी मौत हो गई थी। इसके अलावा एक तिब्बती नागरिक की भी मौत हुई है। बद्दी की महिला के संपर्क में आए चार लोग भी कोरोना पाए गए हैं, जोे मेदांता अस्पताल गुड़गांव में उपचाराधीन हैं। इसके अलावा आइजीएमसी शिमला में तीन और टांडा अस्पताल में चार मरीज उपचाराधीन हैं। अतिरिक्त मुख्य सचिव स्वास्थ्य आरडी धीमान ने इसकी पुष्टि की है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।