महर्षि बाल्मीकि पुरस्कार के लिए चौंतड़ा की इन छह पंचायतों का किया मूल्यांकन #news4
January 30th, 2022 | Post by :- | 197 Views

जोगेंद्रनगर : स्वच्छ भारत अभियान के तहत खंड स्तर पर महर्षि बाल्मीकि पुरस्कार के लिए मंडी जिला की विकास खंड चौंतड़ा की छह पंचायतों का मूल्यांकन विभाग की ओर से गठित टीम ने किया है। चौंतड़ा विकास खंड की ओर से द्रुबल, टिकरी मुशैहरा, तलकेहड़, गोलमा, बदहेड़ और ऐहजू पंचायतों ने इसके लिए आवेदन किया था।

टीम ने अपने पांच दिवसीय दौरे के दौरान स्वच्छता मानकों को बारीकी से जाना और रिपोर्ट तैयार कर ली है। महाऋषि बाल्मीकि स्वच्छता पुरस्कार में खंड स्तर पर विजेता पंचायतों (प्रथम) को एक लाख रुपये की राशि, स्मृति चिन्ह तथा प्रशंसा पत्र पुरस्कार स्वरूप प्रदान किया जाएगा। मूल्यांकन टीम में विकास खंड गोहर से समाज शिक्षा एवं खंड योजना अधिकारी राजेंद्र सिंह, जल शक्ति विभाग से सोनू, मीडिया की ओर से मृगेंद्र पाल, सामाजिक एवं अधिकारिता विभाग से संदीप कुमार, शिक्षा विभाग से सुरेश कुमार शामिल रहे।

इन पहलुओं का किया निरीक्षण

टीम ने अपने दौरे में पंचायतों के प्रत्येक वार्ड, स्कूल, आंगनबाड़ी केंद्र, मोक्षधाम, स्वस्थ संस्थान, सार्वजनिक शौचालय, बावडिय़ां, प्राकृतिक जल स्रोत, घरों से निकलने वाले ठोस व गीला कचरा प्रबंधन सहित स्वच्छता से संबंधित सभी पहलुओं का मूल्यांकन किया।

खंड स्तर पर मिलेंगे एक लाख रुपये

महर्षि बाल्मीकि स्वच्छता पुरस्कार के तहत खंड स्तर पर स्वच्छ पंचायत को एक लाख, जिला स्तर पर तीन लाख तथा मंडल स्तर पर पांच लाख, राज्य स्तर पर दस लाख रुपये का पुरस्कार, स्मृति चिन्ह तथा प्रशंसा पत्र दिया जाता है।

क्या कहते हैं अधिकारी

समाज शिक्षा एवं खंड योजना अधिकारी राजेंद्र ङ्क्षसह ने बताया कि विकास खंड चौंतड़ा से छह पंचायतों ने पुरस्कार के लिए आवेदन किया था। मूल्यांकन के बाद पुरस्कार के लिए इनका चयन होगा। खंड स्तर की मूल्यांकन टीम की रिपोर्ट के बाद जिला स्तर का मूल्यांकन डीआरडीए की ओर से गठित जिलास्तरीय करेगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।