जम्मू-कश्मीर / सोपोर में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी, मुठभेड़ मे जैश के कमांडर को मार गिराया; इस महीने तीसरा एनकाउंटर
April 8th, 2020 | Post by :- | 138 Views

जम्मू-कश्मीर के सोपोर जिले में मंगलवार देर शाम से आतंकियों से चल रही मुठभेड़ में सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी मिली है। इस एनकाउंटर में जैश-ए-मोहम्मद का कमांडर साजाद नवाब डार मारा गया। यह इस महीने का तीसरा एनकाउंटर है। इससे पहले बीते शनिवार को सेना की पैरा स्पेशल फोर्सेस यूनिट के जवानों ने मुठभेड़ में 5 घुसपैठियों को मार गिराया था, जबकि 4 अप्रैल को कुलगाम में सुरक्षाबलों ने हिजबुल मुजाहिदीन के 4 आतंकियों को ढेर किया था।

इन आतंकियों ने हाल ही में 4 नागरिकों की हत्या की थी। सुरक्षाबलों को इनके हर्दमनगुरी बटपोरा में छिपे होने सूचना मिली थी। इसके बाद स्थानीय पुलिस, स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप और राष्ट्रीय राइफल्स ने इन्हें पकड़ने का आपरेशन शुरू किया। मौके पर पहुंचते ही झाड़ियों में छुपे आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी थी। सुरक्षाबलों ने जवाबी कार्रवाई की, जिसमें चारों आतंकी मारे गए। वहीं,15 मार्च को अनंतनाग जिले में सुरक्षाबलों ने लश्कर-ए-तैयबा के 4 आतंकियों को मार गिराया था। आतंकी एक गांव के एक घर के बाथरूम में गड्ढा खोदकर छिपे थे। सुरक्षाबलों के पहुंचने पर आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी। जवानों ने बाथरूम में घुसकर ही आतंकियों का एनकाउंटर किया। इसी दिन सोपोर में जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकी को गिरफ्तार किया गया था। उसके पास से पिस्तौल, मैगजीन और गोलियां भी जब्त की गई थीं।

पैरा कमांडो ने बीते हफ्ते एक एनकाउंटर में 5 घुसपैठियों को ढेर किया

पिछले हफ्ते केरन सेक्टर में सुरक्षाबलों ने आतंकियों को घुसपैठ करते देखा था। इनके खात्मे के लिए एक अप्रैल को ऑपरेशन लॉन्च किया गया था। इलाके में बर्फ ज्यादा होने की वजह से जवानों का घुसपैठियों तक पहुंचना बेहद मुश्किल था। इसके बाद ऑपरेशन के चौथे दिन यानी शनिवार को सेना के पैराट्रूपर को हेलिकॉप्टर के जरिए नियंत्रण रेखा के पास उतारा गया। बर्फ पर पैरों के निशान देख जवानों ने आतंकियों का पीछा करना शुरू किया। लेकिन बर्फ की एक सिल्ली टूट जाने से जवान नाले में जा गिरे। इसी बर्फीले नाले के पास आतंकवादी छिपे हुए थे। आतंकियों और जवानों के बीच पॉइंट ब्लैंक रेंज पर मुठभेड़ हुई। गिरने के बावजूद अपनी खास ट्रेनिंग की वजह से पैराट्रूपर ने पांच आतंकियों को मार गिराया।

5 मीटर के दायरे में शव मिले थे
तीन कमांडो और पांच आतंकवादियों के शव 5 मीटर के दायरे में मिले थे। इससे साफ है कि इनके बीच आमने-सामने की लड़ाई हुई थी। इसी इलाके में गंभीर रूप से जख्मी दो जवान भी मिले थे, जिन्हें रविवार को एयरलिफ्ट कर श्रीनगर के सेना अस्पताल लाया गया। हालांकि, बाद में इनकी भी मौत हो गई। सेना की इसी 4 पैरा यूनिट ने 2016 में सर्जिकल स्ट्राइक में भाग लिया था, जिसमें सीमा पार जाकर पाकिस्तानी आतंकियों को मार गिराया था।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।