सरकारी कार्यालयों में शुरू होगा कामकाज, तीस फीसद स्टाफ आएगा, शिक्षण संस्थानों पर फैसला तीन के बाद
April 19th, 2020 | Post by :- | 1451 Views

हिमाचल प्रदेश के सभी सरकारी विभागों के तीस फीसद कर्मचारी 20 अप्रैल से कार्यालय आएंगे, जबकि विभागों के सभी सचिवों को सेवाएं देनी होगी। मंत्रियों को भी सचिवालय आना होगा। हालांकि उन्हें शारीरिक दूरी का पूरा पालन करना होगा।

प्रदेश सरकार ने कोरोना वायरस के चलते लगे कफ्र्यू से बिगड़ी आर्थिक स्थित को पटरी पर लाने के लिए कवायद शुरू कर दी है। कार्यालय आने के लिए निजी वाहन में दो व सरकारी और किराये पर लिए वाहनों में चालक सहित चार लोग आ सकते हैं।

अभी केवल आवश्यक सेवाओं से जुड़े विभाग और उनके कर्मचारी ही सेवाएं दे रहे थे। लेकिन अब चरणबद्ध तरीके से अन्य कार्यालयों में भी कामकाज हो सकेगा। बेशक काम सुचारू रूप से होने में वक्त लगेगा। शिक्षण संस्थानों पर तीन मई के बाद ही फैसला होगा।

मंत्रियों से नहीं मिल पाएंगे लोग

फिलहाल मंत्रियों व सचिवों से लोग मुलाकात नहीं कर सकेंगे। वे अपनी समस्याएं सरकार तक सीधे नहीं पहुंचा पाएंगे। इसके लिए सरकार अलग से तंत्र विकसित कर सकती है।

अभी तक विभागों के बारे में कोई बड़ा फैसला नहीं हुआ है। सरकार कोरोना से निपटने के लिए पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। सरकारी विभागों में कामकाज को पटरी में आने में समय लगेगा। -अनिल खाची, मुख्य सचिव।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।