यूं रह सकती हैं आप, सड़क पर सुरक्षित #news4
January 7th, 2022 | Post by :- | 175 Views

महिलाओं के साथ हिंसा, दुर्व्यवहार की घटनाएं बढ़ती ही जा रही हैं. सुरक्षित समझे जानवाले शहरों में भी महिलाएं अब उतनी सेफ़ नहीं हैं. पर क्या आप बिगड़ रही हालात का रोना रोएंगी? बिल्कुल नहीं, रोने से कुछ नहीं होगा. आपका काम बनेगा स्मार्ट बनने से. जैसे आप यह तो जानती ही हैं कि आपको देर शाम या रात को अंधेरे रास्ते से नहीं गुज़रना चाहिए. सुनसान रास्तों से तो दिन में भी बचना चाहिए. इन सावधानियों के अलावा भी आप और क्या-क्या कर सकती हैं, आइए जानने की कोशिश करते हैं.

ट्रैफ़िक की उल्टी दिशा में चले 
फ़ुटपाथ पर चलते समय बताया जाता है ‘कीप लेफ़्ट’ यानी बाएं हाथ की ओर चलें. पर जब रास्ते पर बहुत कम लोग हों तब आपको दाहिने फ़ुटपाथ पर चलना चाहिए. इसका सबसे बड़ा फ़ायदा यह होगा कि जो भी गाड़ियां आ रही होंगी आपके सामने से आ रही होंगी. आप पर पीछे से कोई हमला नहीं कर पाएगा. अगर कोई फ़ुटपाथ पर आपको फ़ॉलो कर भी रहा है तो सामने से से आ रही गाड़ियों के चलते उसकी आप पर हमला करने की हिम्मत नहीं होगी.

चटक और हल्के रंगों के कपड़े पहनें 
सड़क पर चलते समय हल्के और चटक रंगों के कपड़े सुरक्षा के लिहाज़ से काफ़ी काम के साबित होते हैं. जब दिन में आप चटक रंगों के कपड़े पहनती हैं और रात को हल्के रंग के कपड़े, तब गाड़ी चला रहे लोग और फ़ुटपाथ पर चल रहे दूसरे राहगीर आपको आसानी से देख पाते हैं. आप पर किसी भी तरह का हमला होने की स्थिति में लोग आपकी मदद के लिए जल्दी पहुंच सकते हैं.

गाने धीमी आवाज़ में सुनें
सबसे पहले तो रास्ते पर पैदल चलते समय कानों में ईयरफ़ोन लगाकर म्यूज़िक सुनने के लिए सख़्ती से मना किया जाता है. आख़िरकार आप रास्ते पर चल रही होती हैं, आपका पूरा ध्यान उसी पर होना चाहिए. पर अगर आप अकेले चलते हुए म्यूज़िक सुनना पसंद करती हैं तो यह सुनिश्चित करें कि वॉल्युम कम हो. ताकि आपको गाड़ियों की और उनके हॉर्न की आवाज़ सुनाई दे सके. आपको अपने अगल-बगल से आनेवाली आवाज़ों के प्रति चौकन्ना रहना होगा.

फ़ोन को हाथ में रखें, पर इस्तेमाल न करें
रास्ते पर चलते समय फ़ोन को हाथों में रख सकती हैं, पर मैसेज भेजने, गेम खेलन या सेल्फ़ी लेने जैसे काम रास्ते पर चलते-चलते बिल्कुल भी न करें. फ़ोन पर बात करते-करते सुनसान रास्ते पर चलना आपको हिम्मत दे सकता है, पर उस दौरान आपकी नज़र रास्ते और आसपास के लोगों पर बराबर होनी चाहिए. फ़ोन को हाथ में रखने का फ़ायदा यह होगा कि आप आपातकाल में तुरंत मदद के लिए किसी से संपर्क कर सकती हैं.

हैंडबैग में चाबियों का गुच्छा रखकर चलें 
घर के दरवाज़े, कार या स्कूटी की चाबियों को भूलने की आदत को बदल डालें. रास्ते पर अकेले चलते समय ये चाबियां बड़े काम आ सकती हैं. इन्हें अपनी पॉकेट या हैंडबैग में ऐसी जगह रखें, जहां से तुरंत निकालकर हाथ में ले सकें. इमर्जेंसी सिचुएशन्स में आप इनका इस्तेमाल हथियार की तरह कर सकती हैं.

आपको कम्फ़र्टेबल जूते पहनने चाहिए 
रास्ते पर अकेले पैदल चलना हो तो आपके शूज़ इस तरह के होने चाहिए कि ज़रूरत पड़ने पर आप आसानी से तेज़ चल सकें या भाग सकें. इसलिए बेहतर होगा कि ऐसी स्थिति में हाई हील्स न पहलें. फ़्लैट्स या शूज़ बेहतर चुनाव होते हैं.

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।