कृषि विश्वविद्यालय की तीन शोधकर्ता छात्राएं एक माह के प्रशिक्षण के लिए ताइवान रवाना #news4
September 29th, 2022 | Post by :- | 119 Views

पालमपुर: चौधरी सरवन कुमार हिमाचल प्रदेश कृषि विश्वविद्यालय की तीन शोधकर्ता छात्राएं एक माह के लिए ताइवान के लिए रवाना हुई। पीएचडी शोधकर्ता पायल, सृष्टि और अलीशा ठाकुर ताइवान में शोध पर आधारित एक माह का प्रशिक्षण हासिल करेगी। कुलपति प्रो. एचके चौधरी ने बताया कि विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय कृषि उच्च शिक्षा परियोजना ने इन शोधार्थियों को वर्ल्ड वेजिटेबल सेंटर, ताइवान में प्रशिक्षण के लिए प्रायोजित किया है।

वनस्पति विज्ञान और पुष्प कृषि विभाग के ये शोधार्थी आणविक सब्जी प्रजनन से संबंधित अनुसंधान विषयों के नए क्षेत्रों से परिचित होंगे और दुनिया के सबसे बड़े सार्वजनिक जीन बैंक से भी परिचित होंगे। कुलपति चौधरी ने बताया कि वे एक अक्टूबर से 31 अक्टूबर 2022 तक डा रोलैंड शैफ्लेइटनर, प्रमुख, मालिक्यूलर जेनेटिक्स-कम-फ्लैगशिप प्रोग्राम लीडर, वेजिटेबल डायवर्सिटी एंड इम्प्रूवमेंट के मार्गदर्शन में काम करेंगी। उनके जाने की पूर्व संध्या पर प्रो. चौधरी ने इन पीएचडी. शोधार्थियों को सलाह दी कि वे अनुसंधान कार्य को अपने पीएचडी को बढ़ाने के लिए अत्याधुनिक सुविधाओं का अनुभव करें। विभागाध्यक्ष डा डीआर चौधरी, विश्वविद्यालय में राष्ट्रीय कृषि उच्च शिक्षा परियोजना के प्रधान अन्वेषक डा रणबीर सिंह राणा और छात्रों के सलाहकार डा प्रवीण शर्मा ने बताया कि अनुसंधान विद्वानों का चयन आणविक आनुवंशिकी पर उनकी शोध समस्याओं के आधार पर किया गया है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।