सिरमौरी लोइया को पहचान दिलाने के लिए ज्योग्राफिकल इंडिकेशन एक्ट के तहत होगा पंजीकरण #news4
March 4th, 2022 | Post by :- | 163 Views

नाहन : मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने शुक्रवार को अपने कार्यकाल का पांचवा बजट पेश किया। इस बजट में मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने जिला सिरमौर के लिए कुछ घोषणाएं तथा जो योजनाएं चल रही हैं, उन्हें जल्द लोकार्पण करने की घोषणा बजट में की है। मुख्यमंत्री ने नाहन मेडिकल कालेज के चिकित्सा अधिकारियों के लिए विशेष काडर स्थापित करने की घोषणा की है। इसके साथ ही डा वाइएस परमार मेडिकल कालेज एवं अस्पताल में जो फैकेल्टी व अन्य पद रिक्त पड़े हैं, उन्हें जल्द भरा जाएगा। वही जिला सिरमौर के प्रमुख धार्मिक एवं पर्यटन स्थल श्रीरेणुकाजी के सौंदर्यकरण के लिए एशियाई विकास बैंक के सहयोग लिया जाएगा। इसके साथ ही ऐतिहासिक भवनों का संरक्षण, हेलीपोर्ट का निर्माण, इको टूरिज्म, वाटर स्पोर्ट्स व वैलनेस सेंटर श्रीरेणुकाजी में विकसित होंगे।

श्रीरेणुकाजी विस के बेचड का बाग – धारटीधार में आइटीआई खोलने के लिए डीपीआर बनाई जाएगी। पांवटा साहिब उपमंडल में निर्माणाधीन मार्केट यार्ड को सितंबर 2022 तक पूरा कर इसे जनता को समर्पित किया जाएगा। इसके साथ ही वर्ष 2022-23 में जिला सिरमौर के औद्योगिक क्षेत्र कालाआम के समीप 14 करोड़ 51 लाख की लागत से बन रही त्रिलोकपुर खेरी मल निकासी योजना जनता को समर्पित की जाएगी। ज्योग्राफिकल इंडिकेशन एक्ट 1999 के तहत सिरमौरी लोहिया को विश्व भर में पहचान दिलाने के लिए इसका पंजीकरण किया जाएगा। राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड की पांवटा साहिब प्रयोगशाला में निरीक्षण व परीक्षण की उच्च गुणवत्ता सुनिश्चित करने के लिए इसे नेशनल एक्रीडिटेशन बोर्ड फार टेस्टिंग और कैलिब्रेशन के साथ संबंध किया जाएगा। जिला सिरमौर में अपराध रोकने के लिए नाहन में कमांड एंड कंट्रोल सेंटर स्थापित होगा।

यह कमांड एंड कंट्रोल सेंटर जिला में अवैध खनन अवैध व शराब की तस्करी तथा जिला सिरमौर कि उत्तराखंड उत्तर प्रदेश व हरियाणा के साथ लगती सीमा पर निगरानी करेगा। नाहन में निर्माणाधीन बहुउद्देशीय सांस्कृतिक केंद्र के निर्माण को गति दी जाएगी तथा इसका निर्माण कार्य पूरा करवा कर जनता को समर्पित किया जाएगा। स्पोर्ट्स हास्टल माजरा के खेल मैदान में बन रहे हाकी एस्ट्रोटर्फ फील्ड को जल्द खिलाड़ियों को समर्पित किया जाएगा। इसके साथ ही जिला सिरमौर के लोगों की वर्षों से लंबित मांग पांवटा साहिब जगाधरी रेल लाइन का सर्वेक्षण पूरा करवा कर, रेल मंत्रालय से इसकी डीपीआर तैयार करवाई जाएगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।