पुजैली गांव में दोमंजिला मकान व पशुशाला राख #news4
June 8th, 2022 | Post by :- | 97 Views

ठियोग : उपमंडल ठियोग की बड़ोग पंचायत के पुजैली गांव में मंगलवार शाम दोमंजिला मकान और पशुशाला आग लगने से राख हो गए। रोशन लाल का मकान जलने से उनके साथ उनका छह सदस्यीय परिवार बेघर हो गया है। शाम पांच बजे के आसपास भड़की आग का कारण शार्ट सर्किट बताया जा रहा है। ठियोग से अग्निशमन विभाग का दल पहुंचा तब तक मकान चारों तरफ से आग से घिर चुका था।

अग्निशमन विभाग के कर्मचारियों ने ग्रामीणों के साथ मिलकर देवता मतानेश्वर की देवठी व जंगल में आग फैलने से रोकने में सफलता हासिल की। आग लगने के समय मकान में रोशन लाल ने स्थानीय लोगों की मदद से घर में सोए हुए अपने पोते-पोती को बाहर निकाला। यदि बच्चों को निकालने में थोड़ी भी देर हो जाती तो बड़ा हादसा हो सकता था। हालांकि इस बीच बच्चों को हल्की चोटें भी पहुंची हैं। ग्रामीणों की मदद से पशुशाला में बंधे मवेशियों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया। आग को फैलने से रोकने के लिए साथ लगते रसोई में रखे सिलेंडर भी बाहर फेंक दिए। इस बीच आग पूरे घर को चपेट में ले चुकी थी और आधे घंटे में ही मकान जल गया। विधायक सिंघा ने की पांच लाख का मुआवजा देने की मांग

गांव में पानी की कमी के कारण भी आग बुझाने में दिक्कत का सामना लोगों को करना पड़ा। आग लगने से दहशत से सहमे लोग रात भर निगरानी में लगे रहे। ठियोग के विधायक राकेश सिघा ने सरकार से पीड़ित परिवार को पांच लाख की सहायता देने की अपील की है। रोशनलाल सरोग गांव में शाखा डाकपाल के रूप में कार्यरत हैं। एसडीएम ने पानी के टैंक बनाने की ग्रामीणों से की अपील

ठियोग के एसडीएम सौरव जस्सल ने मौके पर पहुंचकर पीड़ित परिवार को सांत्वना दी और फौरी राहत प्रदान की। उन्होंने ग्रामीणों से अपील की कि इस प्रकार की घटनाओं से निपटने के लिए गांव में मनरेगा और अन्य योजनाओं के तहत पानी के टैंक बनाए जाएं। उन्होंने पुराने लकड़ी के मकानों में रहने वालों को अधिक सावधानी बरतने की भी अपील की।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।