केंद्रीय विश्‍वविद्यालय के भूमि पूजन पर आ सकते हैं केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान #news4
August 9th, 2022 | Post by :- | 94 Views

धर्मशाला : अगस्त माह में होने वाले केंद्रीय विश्वविद्यालय के जदरांगल व देहरा परिसरों की निर्माण के भूमि पूजन पर केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान बतौर मुख्यातिथि उपस्थित हो सकते हैं। हालांकि इसको लेकर केंद्रीय मंत्री कार्यालय की स्वीकृति पत्र तो नहीं पहुंचा है, लेकिन सीयू प्रशासन प्रयास कर रहा है कि भूमि पूजन कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री को बुलाया जाए। इसको लेकर सीयू प्रशासन ने उसने एक दिन का समय मांगा है। इसको लेकर प्रदेश सरकार को भी सूचित किया गया है और प्रदेश सरकार को भी अपनी ओर से मुख्यातिथि को लेकर अंतिम स्वीकृति देने को कहा गया है। सीयू के दो परिसर जदरांगल व देहरा में बनेंगे। जदंरागल में 90 हैक्टेयर तथा देहरा में 115 हेक्टेयर भूमि के निर्माण कार्य को लेकर लगभग सभी औपचारिकताएं पूरी हो चुकी हैं। केवल जदरांगल की प्रस्तावित भूमि की केंद्र से एफसीएक्यीरेंस आनी शेष है, जबकि प्रदेश सरकार ने एफसीए क्लीयरेंस अपने स्तर पर पिछले माह ही जारी कर दी है।

एक माह बढ़ाया जाएगा पीजी व यूजी का सत्र

इस बार सीयू स्नातक व स्नातकोतर प्रवेश प्रक्रिया नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (एनटीए) के माध्यम से करवा रहा है। चिंता की बात ये हो चुकी है कि एनटीए संयुक्त प्रवेश परीक्षाएं उचित ढंग से संचालित ही नहीं करवा पा रहा है। अगस्त माह शुरू हो चुका है, लेकिन अभी स्नातक की प्रवेश परीक्षा भी पूरी नहीं हुई है, जबकि एनटीए की ओर से दावा किया गया है कि अगस्त माह के अंतिम सप्ताह से स्नातकोतर प्रवेश परीक्षाएं शुरू की जाएंगी। ऐसे में सितंबर माह तक परीक्षाओं का परिणाम ही घोषित बड़ी मुश्किल से हो पाएगा। ऐसे में अक्टूबर तक ही कक्षाएं शुरू हो पाएंगी। जिसको देखते हुए सीयू प्रशासन ने इस बार सेमेस्टर का सत्र एक माह बढ़ाने का निर्णय लिया है। इस बार पीजी व यूजी के पहले सेमेस्टर का सत्र दिसंबर की बजाए जनवरी तक होगा।

देहरा भूमि से हटवाए 250 अवैध कब्जे

विश्वविद्यालय के भवन निर्माण के कार्य का आगाज धरातल पर दिखने लगेगा, इसके लिए लगभग सभी तकनीकी खामियों को दूर कर लिया गया है। निर्माण कार्य के पहले चरण में अकादमिक भवन और छात्रों के ठहरने के लिए हास्टल निर्माण का कार्य शुरू किया जाएगा। विश्वविद्यालय के दो कैंपस होंगे और दोनों जगह काम शुरू किया जाएगा। देहरा की प्रस्तावित भूमि में वहां के 250 से अधिक लोगों ने अतिक्रमण किया हुआ था। सीयू प्रशासन ने इन लोगों से बातचीत करके सभी 250 अवैध कब्जे हटवा दिए हैं। परिसरों के निर्माण कार्य के लिए केंद्रीय लोक निर्माण विभाग को नोडल एजेंसी बनाया है।

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने किया था शिलान्यास

सीयू के देहरा व जदरांगल परिसरों के निर्माण के लिए आधारशिला 2019 में रखी गई थी। उस समय 21 फरवरी 2019 को तत्कालीन केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने धर्मशाला पहुंचकर दोनों परिसरों के आधारशिला रखी थी। इसका मुख्य कारण ये भी था कि पिछले कई सालों से सीयू चुनावी मुद्दा रहा था और भाजपा सरकार 2019 लोकसभा चुनावों के दौरान भाजपा कोई भी मुद्दा हाथ से नहीं जाने देना चाहती है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।