कांग्रेस का चोर दरवाजे से नियुक्तियां करने का आरोप, स्‍थ‍गन प्रस्‍ताव खारिज होने पर सदन में हंगामा, वाकआउट #news4
December 13th, 2021 | Post by :- | 163 Views

धर्मशाला : विधानसभा के शीतकालीन सत्र के दौरान कांग्रेस का आक्रमक रुख कायम है। विपक्ष ने प्रदेश सरकार के विभागों में चोर दरवाजे से नौकरियां देने का आरोप लगाया है। स्थगन प्रस्ताव के तहत दिए गए विषय में करुणामूलक आधार, आउट सोर्स आधार पर नियुक्तियां दी जा रही हैं। जैसे ही विधानसभा की कार्यवाही दोपहर बाद 2:00 बजे शुरू हुई, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं विधायक रामलाल ठाकुर खड़े हो गए और प्वाइंट आफ आर्डर के तहत कुछ कहना चाहते थे। लेकिन विधानसभा अध्यक्ष विपिन सिंह परमार ने उन्हें बैठने के लिए कहा इस बीच कांग्रेस के विधायक की एक के बाद एक खड़े होने शुरू हो गए। कुछ देर के बाद कांग्रेस विधायकों ने सदन से वाकआउट कर दिया।

नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने कहा विधानसभा में एक नई प्रथा शुरू कर दी गई है कि विपक्ष द्वारा लाए गए विषयों पर चर्चा नहीं करवाई जा रही है। इस बीच विधानसभा अध्यक्ष विपिन सिंह परमार ने कहा 15 दिसंबर को प्रश्नकाल के दौरान इससे संबंधित प्रशन लगे हैं। जिस पर सभी विधायक अपनी बात रख सकते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि स्थगन प्रस्ताव के तहत तीन विषय एक साथ नहीं लाए जा सकते हैं।

विपक्ष द्वारा दिए गए स्थगन प्रस्ताव में रामलाल ठाकुर, आशा कुमारी, सुंदर सिंह ठाकुर, विनय कुमार, विक्रमादित्य सिंह ने दोपहर बाद 12:55 पर प्रस्ताव संबंधित सूचना दी थी। लेकिन विधानसभा के नियमों के तहत एक से अधिक विषय को स्वीकार नहीं किया जा सकता। ऐसे ही में विपक्षी कांग्रेस द्वारा दिए गए प्रस्ताव को खारिज कर दिया गया।

विधानसभा अध्यक्ष विपिन सिंह परमार की ओर से प्रस्ताव को निरस्त करने से गुस्साए कांग्रेस विधायकों ने नारेबाजी शुरू कर दी और कुछ देर बाद नारे लगाते हुए सदन के बीचों बीच आकर बैठ गए। इस बीच प्रश्नकाल शोर शराबे के बीच में शुरू हुआ।

सदन के बीच में बैठकर भाषण देने लगे कांग्रेस नेता

एक तरफ विधानसभा में प्रश्नकाल चल रहा था तो दूसरी ओर कांग्रेस के सदस्य सदन के बीचोंबीच बैठ गए और एक के बाद एक कांग्रेसी विधायक सरकार के खिलाफ आलोचनात्मक भाषण देते रहे। सबसे पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता रामलाल ठाकुर ने भाषण दिया। उसके बाद कांग्रेस की वरिष्ठ नेता आशा कुमारी ने सरकार के खिलाफ भाषण दिया। उसके बाद हर्षवर्धन चौहान, फ‍िर विक्रमादित्य सिंह ने भाषण दिया। भाषण के दौरान सदन के बीचोंबीच बैठे कांग्रेसी विधायक नारेबाजी करते रहे। कांग्रेस विधायक सरकार के खिलाफ कटाक्ष कर रहे हैं।

सीएम ने महेंद्र सिंह को किया अधिकृत

विधानसभा अध्यक्ष विपिन सिंह परमार ने सदन को अवगत करवाया कि मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर वाराणसी में आयोजित मुख्यमंत्रियों के सम्मेलन में शामिल होने के लिए गए हैं। ऐसे में उन्होंने प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर को विधायी कार्यों के लिए अधिकृत किया है। परमार ने कहा इस संबंध में लिखित पत्र दिया गया है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।