वास्तु / नकारात्मकता दूर करने के लिए किया जाता है घर में गौमूत्र का छिड़काव, लोबान और चंदन जलाकर किया जाता है धुंआ
November 8th, 2019 | Post by :- | 190 Views

जिन घरों में नकारात्मकता होती है, वहां रहने वाले लोगों की सोच पर बुरा असर होता है। ऐसे लोग किसी भी काम में नकारात्मक पक्ष पहले देखते हैं। इस वजह से कार्यों में सफलता नहीं मिलती है और बाधाओं का सामना करना पड़ता है। घर के वास्तु दोषों की वजह से ऐसी स्थिति बन सकती है। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य और वास्तु विशेषज्ञ पं. मनीष शर्मा के अनुसार वास्तु दोष दूर करने से घर में सकारात्मकता बढ़ती है।

कुछ खास परंपरागत वास्तु टिप्स…

  1. घर की नकारात्मक ऊर्जा को दूर करने के लिए पोंछा लगाते समय पानी में थोड़ा नमक मिला लेना चाहिए। नमक में नेगेटिव एनर्जी ग्रहण करने की शक्ति होती है। इसकी वजह से घर में मौजूद सूक्ष्म हानिकारक कीटाणु भी नष्ट होते हैं।
  2. घर में रोज सुबह या समय-समय पर गौमूत्र का छिड़काव करना चाहिए। गौमूत्र की तेज गंध से स्वास्थ्य लाभ मिलता है और वातावरण पवित्र होता है।
  3. हर रोज सुबह-सुबह घर के बाहर रंगोली बनाने की परंपरा पुराने समय से चली आ रही है। इससे घर में सकारात्मक ऊर्जा प्रवेश करती है। घर में प्रवेश करते समय सुंदर रंगोली दिखाई देती है तो मन को प्रसन्नता मिलती है और नकारात्मक विचार दूर हो सकते हैं।
  4. घर में लोबान, गुग्गल, कर्पूर, देशी घी और चदंन जलाकर इनका धुआं फैलाना चाहिए। इससे नकारात्मकता खत्म होती है। इन चीजों के धुंए से वातावरण के सूक्ष्म हानिकारक कीटाणु नष्ट हो जाते हैं।
  5. सुख-समृद्धि के लिए घर के दरवाजे पर स्वस्तिक या श्री गणेश का चिह्न लगाएं।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।