रोजगार को लेकर ग्रामीणों ने एम्स प्रशासन के खिलाफ बोला हल्ला, दी ये चेतावनी #news4
March 1st, 2022 | Post by :- | 111 Views

बिलासपुर : बिलासपुर के निकट अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के सामने प्रदेश इंटक के प्रदेश उपाध्यक्ष भगत सिंह वर्मा के नेतृत्व में जोरदार नारे लगाते हुए इंटक के कार्यकर्ताओं और स्थानीय ग्रामीणों ने धरना-प्रदर्शन किया। भगत सिंह वर्मा ने प्रदर्शनकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि एम्स प्रशासन चोर दरवाजे से विभिन्न पदों पर भर्तियां कर रहा है और जिला रोजगार कार्यालय को इस बारे में न तो कोई सूचना ही है और न ही उससे नाम ही आमंत्रित किए जा रहे हैं जिस कारण सुयोग्य अथवा पढ़े-लिखे युवक-युवतियां और स्थानीय विस्थापित परिवार रोजगार से वंचित रह रहे हैं।

भगत सिंह वर्मा ने कहा कि पिछले दिनों डीसी और एम्स प्रशासन ने उन्हें आश्वासन दिया था कि स्थानीय लोगों और विस्थापित परिवारों को रोजगार में प्राथमिकता दी जाएगी जिस आश्वासन को पूरा करने में जिला प्रशासन और एम्स प्रशासन असफल रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि नियम-कानून की सरेआम धज्जियां उड़ाई जा रही हैं और श्रमिकों अथवा मजदूरों को न्यूनतम वेतन नहीं दिया जा रहा है। कामगारों का डट कर शोषण किया जा रहा है, जिसे किसी भी सूरत में सहन नहीं किया जाएगा।

भगत सिंह वर्मा ने जिला प्रशासन से तुरंत हस्ताक्षेप करके स्थानीय लोगों को एम्ज में रोजगार दिलवाने और श्रमिकों को न्यूनतम वेतन दिलवाने का आग्रह किया। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि उनकी मांगों को शीघ्र स्वीकार नहीं किया तो इंटक आंदोलन करने पर विवश होगी, जिसका सारा उत्तरदायित्व जिला प्रशासन और एम्स प्रशासन पर होगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।