ऊना पंचायत समिति में लगातार तीसरी बार वॉकआउट, बीडीसी अध्यक्ष की अगुवाई में सदस्यों ने खोला मोर्चा #news4
January 28th, 2022 | Post by :- | 124 Views

ऊना : ऊना पंचायत समिति की त्रैमासिक बैठक में लगातार तीसरी बार वॉक आउट हो गया है। पंचायत समिति के अध्यक्ष यशपाल चौधरी की अगुवाई में कांग्रेस समर्थित सदस्यों ने जिला प्रशासन समेत विभिन्न विभागों के अधिकारियों पर गंभीर आरोप लगाए हैं। गौरतलब है कि पंचायत समिति कांग्रेस के पास है और कांग्रेस से जुड़े तमाम बीडीसी सदस्य विभिन्न विभागों के अधिकारियों पर सरकार के दबाव में विकास कार्यों में अड़ंगा डालने का आरोप जड़ते रहे हैं। शुक्रवार को भी त्रैमासिक बैठक के दौरान अधिकारियों के न पहुंचने के कारण बीडीसी सदस्यों ने जमकर हंगामा किया। वहीं उन्होंने चेतावनी दी है कि यदि अब भी अधिकारियों ने अपना रवैया न बदला तो सभी बीडीसी सदस्यों को अपने चुनाव क्षेत्र की जनता को साथ लेकर सड़कों पर उतरने के लिए मजबूर होना पड़ेगा।

पंचायत समिति ऊना की त्रैमासिक बैठक से अध्यक्ष यशपाल चौधरी की अगुवाई में वॉक आउट करने वाले बीडीसी सदस्यों ने विभिन्न विभागों के अधिकारियों पर विकास कार्यों से उदासीन रहने और कार्य में अड़ंगा डालने के आरोप जड़े हैं। बीडीसी अध्यक्ष यशपाल चौधरी का आरोप है कि हर बैठक में हर विभाग की तरफ से बदलकर अधिकारी या कर्मचारी भेज दिए जाते हैं। जब उसे पिछली बैठक के दौरान की गई शिकायतों के बारे में जानकारी ली जाती है तो वह पहली बार बैठक में आने की बात कहकर पल्ला झाड़ लेते हैं। उन्होंने कहा कि पंचायत समिति का गठन हुए 1 साल से ऊपर का समय बीत चुका है लेकिन अभी तक विभागों के विकास विरोधी रवैया के चलते ग्रामीण अंचलों में कई काम लटके पड़े हैं।

उन्होंने कहा कि सभी पंचायत समिति सदस्य खंड विकास अधिकारी के माध्यम से विभिन्न विभागों को बैठक से करीब 10 दिन पूर्व तमाम मुद्दों से अवगत करवाते हैं। लेकिन इसके बावजूद कुछ प्रमुख विभाग इस बैठक से कन्नी काटते हैं। उन्होंने कहा कि बीडीसी सदस्यों को जानबूझ कर परेशान किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि यह पंचायत समिति कांग्रेस की है और इसके लिए सरकार के दबाव में अधिकारी कांग्रेस समर्थित पंचायत समिति सदस्यों की बात को अनसुना कर रहे हैं। उन्होंने चेतावनी दी कि यदि अब भी अधिकारियों ने अपने इस रवैया को नहीं सुधारा तो सभी पंचायत समिति सदस्य जनता को साथ लेकर सड़कों पर उतरने के लिए मजबूर होंगे, जिसकी जिम्मेदारी खुद इन अधिकारियों और प्रदेश की भाजपा सरकार की होगी। वहीं बीडीओ ऊना रमनवीर सिंह ने कहा कि कुछ विभागों के अधिकारी बैठक में नहीं आ रहे है जिसे लेकर विभागों से पत्राचार भी किया गया है। उन्होंने कहा कि जल्द ही सभी समस्यायों का उचित समाधान किया जायेगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।