क्या बंद हो रहे हैं 2000 के नोट, ATM में हो रहा ये बदलाव, जानें क्या है मामला
February 26th, 2020 | Post by :- | 208 Views

सरकार अब 2 हज़ार के नोटों को धीरे-धीरे प्रचलन से बाहर करने की तैयारी में हैं। अब सभी बैंकों ने ATM में 2 हज़ार के नोट को नहीं डालने का फैसला लिया है। बता दें भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने पिछले साल एक आरटीआई जवाब में कहा था कि केंद्रीय बैंक ने 2,000 रुपये मूल्यवर्ग के करेंसी नोटों की छपाई बंद कर दी है। बिजनेस स्टैंडर्ड की एक रिपोर्ट के मुताबिक अब ATM में 2,000 रुपए के नोट वाले रैक को 500 के नोट वाले रैक से बदला जाएगा। इसी के साथ अब ATM में चार रैको में से तीन में 500-500 के नोट होंगे तो वहीं 1 रैक में 100 या 200 रुपए के नोट डाले जाएंगे। इससे स्पष्ट होता है कि अब भारत सरकार 2 हज़ार के नोटों को जल्द ही प्रचालन से बाहर कर सकती है।

इतना स्पष्ट है कि इन नोटों की वैधता अब भी जारी रहेगी। 2,000 रुपये के नोट के लिए बदलाव लाना एक समस्या है, जिसे ध्यान में रखते हुए कुछ बैंकों ने अपने एटीएम में 2,000 रुपये के नोटों का उपयोग बंद कर दिया है। एक RTI में RBI द्वारा दिए गए जवाब के अनुसार, 2016-17 के दौरान 2,000 रुपये के मूल्यवर्ग के 3,542.991 मिलियन नोट छापे गए थे। हालांकि, 2017-18 में छपाई में भारी कमी देखी गई और केवल 111.507 मिलियन नोटों का उत्पादन किया गया, जो कि 2018-19 में 46.690 मिलियन नोटों तक कम हो गया।

आपको घबराने की जरूरत नहीं

यह तय है कि सरकार इन्हें धीरे-धीरे प्रचलन से बाहर करेगी और उनकी कानूनी वैधता बनी रहेगी। जैसे ही 2 हज़ार का कोई नोट बैंक के पास आएगा तो बैंक उसे वापस circulation में भेजने की बजाय RBI के पास भेज देगा। कुछ बैंकों का कहना था कि लोग ATM से 2 हज़ार का नोट लेकर बैंक में उसे खुला करवाने के लिए आते थे, जिसकी वजह से बैंकों में भीड़ बढ़ जाती है। ऐसे में ATM से अब इन्हें हमेशा के लिए हटा दिया जाएगा और इसके बाद सर्कुलेशन से भी 2 हज़ार के नोट की छुट्टी कर दी जाएगी।

इस महीने पब्‍लिक सेक्‍टर के इंडियन बैंक ने अपने ग्राहकों को सूचना दी है कि उसके एटीएम मशीनों से अब 2 हजार रुपये के नोट नहीं निकलेंगे. बैंक ने एक सर्कुलर में बताया गया है कि आगामी 1 मार्च से इंडियन बैंक के ATM में 2,000 रुपये नोट रखने वाले कैसेट्स को हटा दिया जाएगा। बैंक ने यह फैसला अपने ग्राहकों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए लिया हैं। इंडियन बैंक का इलाहाबाद बैंक के साथ विलय होने वाला है। ये विलय 1 अप्रैल से अस्‍तित्‍व में आएगा. विलय के बाद यह सातवां सबसे बड़ा बैंक हो जाएगा। गौरतलब है कि नवंबर 2016 में मोदी सरकार द्वारा किए गए नोटबंदी के बाद 2017 की शुरुआत में 2000 रुपये के नोट चलाए गए थे।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।