क्या है स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट
February 27th, 2020 | Post by :- | 169 Views

राजधानी शिमला को एक टुरिस्ट स्पोर्ट के नाम से जाना जाता हैं। अब सवाल ये उठता है कि क्या राजधानी शिमला स्मार्ट सिटी नही है और अगर नही है तो ये स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट आखिर है क्या??
शहरवासी को लगभग पिछले तीन साल से स्मार्ट सिटी शब्द सुनने को मिल रहा हैं लेकिन अभी तक स्मार्ट सिटी में आने वाले प्रोजेक्टों की कोई भी योजना पूरी नहीं हो सकी है। स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत शहरवासियों को बहुत सी सुविधाएं मिलने की उम्मीद है। स्मार्ट सिटी में लोगों को सफाई, पानी, पार्किंग जैसी स्मार्ट सुविधाएं मिलने की उम्मीद है।वैसे नगर निगम की अभी तक कि किसी भी योजना की बात की जाए तो ज्यादातर योजनाओं से लोगों में निराशा ही देखने को मिलती है फिर चाहे आनलाइन भारी भरकम पानी के बिल का भुगतान हो या शहर में गारबेज कलेक्शन योजना।गौरतलब है कि स्मार्ट सिटी के तहत 28 प्रोजेक्ट बनाए गए हैं जिससे शिमला शहर स्मार्ट सिटी बन जाएगा।जिनमें से अभी तक कोई भी प्रोजेक्ट पूरा नही हो पाया है।

स्मार्ट सिटी के तहत योजनाएं
लोअर बाजार, राम बाजार और कृष्णानगर का कायाकल्प कुल 1248 करोड़ का बजट।
नए भवन बनेगें और होटल
कर्मिशियल काम्प्लेक्स, नए रोड, फुटपाथ, स्टी्ट लाइट, सोलर पैनल, तहबाजारियों के लिए बाजार,भूकंप से बचने के लिए शेल्टर, मार्डन स्कूल।
शहर के नालों का सौंदर्य करण
कूड़ा सयंत्र से बिजली और खाद बनाना
कवरड फुटपाथ 11 करोड़ का प्रावधान
ई शौचालय 1 करोड़ 20 लख
पार्किंग सुविधा
अब ये देखना अहम होगा कि नगर निगम कब तक इन योजनाओं को अमलीजामा पहनाएगा और स्मार्ट सिटी के शहरवासियों को इनका फायदा मिलेगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।