शांता की फिर आई सलाह, अब वीरभद्र से क्या किया “आग्रह” कुछ तो बात है
October 30th, 2019 | Post by :- | 166 Views

चुनावी राजनीति से किनारा कर चुके बीजेपी के वरिष्ठ नेता शांता कुमार ने धर्मशाला में होने जा रही ग्लोबल इन्वेस्टर मीट को लेकर प्रदेश के कांग्रेसियों से अपील की है कि वे केवल विरोध के लिए विरोध की नीति को छोड़ कर इस कार्यक्रम में सहयोग दें। उन्होंने कहा कि पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह अत्यन्त अनुभवी नेता हैं, उनसे विशेष आग्रह है कि वह कुछ सुझाव दें और इस कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए सरकार को सहयोग दें। शांता ने एक बयान में कहा है कि इन्वेस्टर मीट के प्रति कांग्रेस का दृष्टिकोण बड़ा निराशाजनक है। वह विरोध के लिए विरोध कर रहे हैं, प्रदेश के हितों का विचार नहीं कर रहे हैं।

शांता कुमार ने कहा कि हिमाचल के इतिहास में इस प्रकार का प्रयास पहली बार जय राम सरकार कर रही है। यह इतना महत्वपूर्ण है कि छोटे से प्रदेश में स्वयं पीएम नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री अमित शाह आ रहे हैं। इतना ही नहीं केन्द्र के आठ मंत्री और भी आ रहे हैं। भारत ही नहीं विश्व के कुछ देशों के निवेशक भी आ रहे हैं। हिमाचल सरकार ने अपनी उद्योग और पर्यटन नीति में बदल करके उसे पूरी तरह निवेशक अनुकूल बनाया है। इसलिए विश्व भर के निवेशक हिमाचल आ रहे हैं। शान्ता कुमार ने कहा कि आज हिमाचल की सबसे बड़ी समस्या पढ़े लिखे नौजवान लोगों की बेरोजगारी की है। यह निवेशक सम्मलेन उस दृष्टि से हिमाचल के इतिहास में एक मील पत्थर सावित होगा।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।