वैशाख अमावस्या और वैशाख पूर्णिमा कब है? #news4
April 21st, 2022 | Post by :- | 85 Views
वैशाख या बैशाख माह हिन्दू कैलेंडर के अनुसार वर्ष का दूसरा माह होता है। 17 अप्रैल से 16 मई तक यह माह रहेगा। इस माह में अक्षय तृतीया, अमावस्या और पूर्णिमा का बहुत महत्व रहता है। आओ जानते हैं कि कब है वैशाख अमावस्या और वैशाख पूर्णिमा और क्यों खास माना जाता है इसे।
वैशाख अमावस्या : 30 अप्रैल 2022 शनिवार को वैशाख माह की अमावस्या रहेगी। इसी दिन शनि जयंती भी मनाई जाएगी। इस दिन स्नान दान और श्राद्ध की अमावस्या रहेगी। इसी दिन ग्राम जयंती, सतुबाई अमावस्या भी रहेगी। इसी दिन सूर्य ग्रहण लगेगा।
वैशाख अमावस्या का महत्व : इस दिन धर्म-कर्म, स्नान-दान और पितरों का तर्पण किया जाता है। पितृदोष और काल सर्पदोष से मुक्ति पाने के लिए इस दिन अनुष्ठान और ज्योतिष उपाय किए जाते हैं। इस दिन नदी, जलाशय या कुंड आदि में स्नान करें और सूर्य देव को अर्घ्य देकर बहते हुए जल में तिल प्रवाहित करें। वैशाख अमावस्या पर शनि जयंती भी मनाई जाती है, इसलिए शनि देव तिल, तेल और पुष्प आदि चढ़ाकर पूजन करनी चाहिए।
वैशाख पूर्णिमा : 16 मई 2022 को वैशाख पूर्णिमा रहेगी। इसी दिन बुद्ध पूर्णिमा रहेगी यानी गौतम बुद्ध की जयंती रहेगी।
वैशाख पूर्णिमा का महत्व : हिंदू धर्म में पूर्णिमा तिथि को बेहद ही शुभ माना जाता है। इस दिन स्नान-दान का भी बहुत अधिक महत्व होता है। पूर्णिमा के दिन श्री हरि विष्णु, धन की देवी माता लक्ष्मी, चंद्र देव, भोलेनाथ और श्री कृष्ण की आराधना करने का विशेष महत्व है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।