मोहटली का पानी हुआ क्षारीय, जिम्मेदार कौन ?
April 5th, 2019 | Post by :- | 176 Views

इन्दौरा का प्रसिद्ध गांव मोहटली, सूरजपुर जो कि क्षेत्र को तीन तीन विधायक दे चुका है और क्षेत्र की नामी बड़ी फैक्टरियां इन गांवो की सीमा में ही आती हैं। वहीं उद्योगों से निकलने वाले रासायन से इन गांवों का जो पानी है वो क्षारीय हो गया है। किसी भी उद्योग के लिए वाटर ट्रीटमेन्ट प्लांट लगाना बहुत जरूरी है लेकिन लगता नहीं कि इन उद्योगों में यह लगा होगा या वो सही काम करता है या नहीं।जिसकी वजह से क्षेत्र के पानी के स्रोतो को दूषित कर लोगो की सेहत से खिलवाड़ कर रहे हैं । इस खारे पानी की वजह से घातक बीमारियाँ जिनमें कैंसर,पेट की बीमारियाँ ,हड्डियों को नुकसान आदि फैल सकती है, जिनका इलाज लाखों रुपए खर्च करके भी असम्भव है। लेकिन न तो इन उद्योगों पर कार्यवाही होती है और न ही यह सब ऐसे काम करना बंद करते हैं।

रंजीत चौधरी अधिशान्सी अभियंता जल विभाग ने कहा कि इन्दौरा की विद्यायक रीता धीमान ने विधानसभा में यह प्रश्न उठाया था और उसके लिए हमनें उन इलाका के पानी की जाँच भी करवाई जिसमें जो सूरजपुर मोहटली क्षेत्र के आसपास के निजी पानी के स्त्रोत हैं उनमें खारा पानी पाया गया है और जो हमारे सरकारी ट्यूबवैल हैं वो काफी गहरे हैं जिस कारण उनमें अभी तक खारा पानी नहीँ हुआ।

राजेश जनरल मैनेजर इंडस्ट्री धर्मशाला ने कहा कि इसके लिए पॉल्युशन विभाग को चेकिंग के लिए बोला जाएगा और जो सरकार की नीतियां है।उसके अनुसार अगर उन उद्योगों में खामियां पाई गई तो उनपर उचित कार्यवाही की जाएगी।

रीता धीमान विद्यायक इन्दौरा ने कहा कि इस विषय में विधानसभा में प्रश्न किया गया था और माननीय मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने आस्वाशन दिया है उन्होंने विभागीय जांच के निर्देश दे दिए हैं। जो भी गलत पाया गया उस पर उचित कार्यवाही की जाएगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।