आखिर हर 100 सालों में वायरस हमला क्यों ……
May 3rd, 2020 | Post by :- | 178 Views

वास्तव में यह एक पहेली बना हुआ है कि हर 100 सालों में धरती पर वायरस का हमला क्यों होता है। एक ऐसा हमला जिसमें लाखों लोगों को जान गंवानी पड़ती है।
सन् 1720, फिर 1820, इसके बाद 1920 और अब 2020. अब ये इत्तेफाक है या कुछ और पता नहीं. पर पिछले चार सौ सालों में हर सौ साल बाद एक ऐसी महामारी जरूर आई है, जिसने पूरी दुनिया में तबाही मचाई. हर सौवें साल आने वाली इस महगामारी ने दुनिया के किसी कोने को नहीं छोड़ा. करोड़ों इंसानों की जान लेने के साथ-साथ इसने कई इंसानी बस्तियों के तो नामो-निशान तक मिटा दिए.

दुनिया में हर 100 साल पर ‘महामारी’ का हमला हुआ है.
यों तो ईसा पूर्व की शताब्दियों में भी इसका उल्लेख मिलता है परंतु लिखित रिकार्ड 1520 से मिल जाता है जब अफ्रीकी गुलामों के कारण यूरोप में चेचक और प्लेग के कारण काफी लोग मरे थे। इसके बाद 1620 में भी इसी तरह का जानलेवा संक्रमण फैला और मानव जीवन को नुक्सान पहुंचा। यहां तक कि 1620 में केवल इटली में ही 17 लाख लोग प्लेग से मरे और उत्तरी अफ्रीका में 50000 लोग मारे गए। बुबानिक प्लेग ने भी फ्रांस में लगभग 100,000 लोगों की जान ली
सन् 1720 में दुनिया में द ग्रेट प्लेग आफ मार्सेल फैला था. जिसमें 1 लाख लोगों की मौत हो गई थी.

100 साल बाद सन् 1820 में एशियाई देशों में हैजा फैला. उसमें भी एक लाख से ज़्यादा लोगों की मौत हो गई थी.

इसी तरह सन् 1918-1920 में दुनिया ने झेला स्पेनिश फ्लू का क़हर. इस बीमारी ने उस वक्त करीब 5 करोड़ लोगों को मौत की नींद सुला दिया था.

और अब फिर 100 साल बाद दुनिया पर आई कोरोना नामक वायरस की तबाही. जिसकी वजह से पूरी दुनिया में हाहाकार मचा हुआ है।

हर 100 साल में दुनिया पर महामारी का हमला, क्या ये संयोग मात्र ?

कोरोना महामारी से पूरी दुनिया परेशान है। हर बीतते वक्त से साथ कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। फिलहाल, कोरोनावायरस दुनियाभर के 200 देशों में फैल चुका है। दुनिया में जहां कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या करीब 18 लाख हो चुकी है, वहीं भारत में करीब 9000+ लोग कोरोना से संक्रमित हो चुके हैं।

फ्रांसीसी भविष्यवेत्ता नास्त्रेदमस की भविष्यवाणियां हो या बुल्गारिया के भविष्यवक्ता बाबा वेन्गा की या बात भारतीय वैदिक ज्योतिषाचार्यों की सभी अपनी अपनी भविष्यवाणियो को लेकर आजकल चर्चा मे है पर इस संयोग ने सभी को आश्चर्य मे डाल दिया है। क्या ये संयोग मात्र है कि हर 100 साल पर पूरी दुनिया पर एक बड़ी महामारी का हमला होता है…?

कोई इसे 20 का अंक गणित मानता है तो कोई धरती का 100 वर्षों का चक्र. कुछ भी हो मगर यह 100 वर्षों का राज जानना बेहद महत्वपूर्ण है। कि आखिर क्यों कोई न कोई महामारी, लगातार 100 वर्षों बाद किसी न किसी रूप में मानव सभ्यता पर हमला करती है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।