सिर्फ दो रेडियोग्राफर के सहारे एक्सरे का जिम्मा #news4
June 20th, 2022 | Post by :- | 72 Views

रोहडू : सिविल अस्पताल रोहडू में एक्सरे की मुफ्त सुविधा प्रदेश सरकार व राष्ट्रीय ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन की ओर से प्रदान की जा रही है, लेकिन इससे आज भी सैकड़ों लोग महरूम हैं। अस्पताल में आर्थो विभाग में तैनात तीन डाक्टरों की ओर से रोजाना 200 से अधिक मरीजों को एक्सरे करवाने के लिए कहा जाता है, लेकिन अस्पताल परिसर की एक्सरे लैब में केवल 100 मरीजों को ही यह सुविधा उपलब्ध हो पाती है। बाकी को आज भी निजी क्लीनिक में अधिक पैसे देकर एक्सरे करवाना पड़ता है।

रोहडू अस्पताल में प्रतिदिन एक्सरे कक्ष के पास मरीजों व तीमारदारों की भारी भीड़ लगी रहती है, लेकिन जिम्मा सिर्फ दो रेडियोग्राफरों को सौंपा गया है। परेशान होकर निजी क्लीनिकों में जाकर एक्सरे करवाने पड़ रहे हैं, या फिर दूसरे दिन अस्पताल आना पड़ रहा है। इससे लोगों में अस्पताल प्रशासन व एक्स-रे करने वाले कर्मचारियों के प्रति खासा रोष व्याप्त है। रेडियोग्राफर की सेहत को ध्यान में रखते हुए दो बजे तक हो रहे एक्सरे

इस व्यवस्था को लेकर जब अस्पताल प्रशासन से बात की गई तो उन्होंने बताया कि रोजाना सैकड़ों की संख्या में एक्सरे किए जाते हैं। अस्पताल में दो रेडियोग्राफर हैं, इतने लंबे समय तक एक्सरे करते समय एक्सरे लेने वाले रेडियोग्राफर के स्वास्थ्य पर विपरीत असर पड़ता है। इस कारण इनके स्वास्थ्य का ख्याल रखते हुए दिन में केवल दो बजे तक ही एक्स-रे किए जाते हैं। क्या कहते हैं अधिकारी

वरिष्ठ चिकित्सा अधिकारी डा. रविद्र शर्मा का कहना है कि सिविल अस्पताल रोहडू में एक्सरे की सुविधा मुफ्त टेस्ट व रिपोर्ट तैयार करने की सुविधा उपलब्ध है। इसके लिए दो रेडियोग्राफरों को तैनात किया गया है। काफी लोग जल्दी के चलते निजी क्लीनिक का रुख कर रहे हैं। शेष लोगों को दूसरे दिन भी आने की छूट दी जाती है। अगर अतिरिक्त रेडियोग्राफर की तैनाती विभाग या फिर निजी लैब से मिलती है तो रोजाना होने वाले टेस्टों की संख्या बढ़ने से लोगों को सुविधा होगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।