मीठे के शौकीन लोग घर पर बनाएं हलवाई जैसी रसमलाई, रेसिपी है बेहद आसान
May 13th, 2020 | Post by :- | 267 Views

जिंदगी हो या खाना, मीठे के बिना ये दोनों अधूरे हैं। वहीं भारत में ऐसी न जाने कितनी ही मिठाइयां हैं, जिनके नाम सुनने से ही मुंह में पानी भर जाता है। ऐसा ही एक नाम है रसमलाई । क्या आप जानते हैं रसमलाई को कितने तरीकों से बनाया जा सकता है? आइए जानते हैं।

1-ओडिशा की खास मिठाई है ‘खीर सागर’, जो बिलकु ल रसमलाई की तरह ही होती है। रसमलाई और खीर सागर में बस इतना अंतर है कि रसमलाई में दूध को थोड़ा ज्यादा गाढ़ा रखा जाता है। इसका एक अन्य किस्म अंगूरी रसमलाई है। यह नाम इसे इसलिए दिया गया है, क्योंकि इसमें छेने के गोलों को छोटे आकार में बनाया जाता है।

2-वहीं, अगर कभी किसी मिठाई की दुकान में जाकर आप छेना पायस सुनें, तो हैरान न हों। छेना पायस भी रसमलाई का दूसरा रूप है। इसमें भी छेना का आकार छोटा रखा जाता है। इसी तरह स्ट्रॉबेरी और ब्लूबेरी की फ्लेवर वाली रसमलाई का भी एक अलग क्रेज है। इसे घर में बनाना भी आसान है।

3-रसमलाई के लिए आपको चाहिए आधा लीटर दूध, 6 चम्मच चीनी, बारीक कटा बादाम-पिस्ता, इलायची पाउडर, आधा कप पानी, 50 ग्राम छेना, आधा चुटकी केसर, एक छोटा चम्मच मैदा। छेना व मैदा लेकर नरम आटे की तरह गूंध लें। इससे छोटी-छोटी बॉल्स बनाकर चपटा कर लें। एक पैन में चीनी व पानी गर्म करें। इसे चीनी के घुलने तक उबालें। अब इसमें छेना बॉल्स को डालकर अलग रखें। एक अन्य पैन में दूध और चीनी गर्म करें। दूध के आधा होने तक इसे पकाएं। इसमें इलायची व केसर मिलाएं। चाशनी से छेना बॉल्स को निकालकर अच्छी तरह से निचोड़ लें। इसे गर्म दूध में डालें और बादाम-पिस्ता से सजाएं। दो घंटे के लिए इसे फ्रिज में रखें, फिर सर्व करें।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।