सिरमौर के रेसलर योगेश ने जीती करनाल मे हुई टैग टीम चैंपियनशिप #news4
November 15th, 2022 | Post by :- | 71 Views

नाहन : जिला सिरमौर से विश्व प्रसिद्ध डब्ल्यूडब्ल्यूई रेस्लर दलीप राणा उर्फ द ग्रेट खली की करनाल स्थित कांटिनेंटल रेसलिंग एंटरेनमेंट अकादमी में आयोजित वर्ल्ड टैग टीम चैंपियनशिप हरिपुरधार के योगेश ने जीती है। इस जीत से योगेश चौहान व प्रदीप काफी उत्साहित है। सिरमौर जिला के संगड़ाह उपमंडल के हरिपुरधार के साथ लगते गांव घरड़िया के 24 वर्षीय योगेश पिछले 2 साल से यहां खली की अकादमी में प्रशिक्षण ले रहे हैं। 2 साल में केवल फीस के लिए वह 3 लाख अदा कर चुके हैं और वह हिमाचल के 1 मात्र प्रशिक्षु रेसलर है। योगेश की इस पहली बड़ी जीत से उनके परिचितों व क्षेत्रवासियों में भारी उत्साह है। साथ ही सोशल मीडिया पर काफी लोग उन्हें बधाई दे रहे हैं। कुछ साल पहले डब्ल्यूडब्ल्यूई में धमाल मचाने वाले दलीप उर्फ ग्रेट खली भी शिलाई उपमंडल के धिराईना गांव से है। जो वर्तमान में जालंधर व करनाल मे सीडब्ल्यूई के नाम से रेसलिंग एकेडमी चला रहे हैं। योगेश के अनुसार वह भविष्य में इससे बड़ी प्रतियोगिता जीतने के लिए जी तोड़ मेहनत करेंगे। दलीप उर्फ खली की अकादमी के माध्यम से वह हिमाचल में भी इस तरह का इवेंट करवाने की कोशिश करेंगे।

पांवटा साहिब की आशी शर्मा टीवी रियलिटी डांस शो में उप विजेता

टीवी रियलिटी डांस शो किसमे कितना है दम के ग्रेंंड फिनाले में पांवटा साहिब की आशी शर्मा ने दम दिखाया। पूरे कार्यक्रम के दौरान गुरु की नगरी की बेटी ने सबको प्रभावित किया। फिनाले में उपविजेता रह कर हिमाचल सहित सिरमौर जिला का नाम रोशन किया। समाज सेविका हेमा शर्मा ने कहा कि भतीजी आशी शर्मा की सफलता से देवीनगर रिहायशी घर व गुरु नानक मिशन स्कूल में खुशी का माहौल है। टीवी रियलिटी डांस शो के फिनाले में आशी अपनी बेहतरीन डांस प्रस्तुति की बदौलत उपविजेता रही। यह आयोजन एक पंजाबी टीवी चैनल के माध्यम से करवाया गया। हेमा शर्मा ने बताया कि आशी शर्मा गुरू नानक मिशन पब्लिक स्कूल में 11वीं कक्षा में शिक्षारत है। डांस में बचपन से रूचि है।

रियलिटी शो में कई राज्यों से प्रतिभागी शामिल हुए

इससे पहले स्थानीय कई डांस कंपटीशन में अपनी प्रतिभा दिखा चुकी है। इस रियलटी शो में पहले स्थानीय स्तर से अगले राउंड को चयन हुआ था। रियलिटी शो में कई राज्यों से प्रतिभागी शामिल हुए। आशी की सफलता से मां रश्मी शर्मा भी बेहद खुश है। बता दें कि आशी के पिता यश कुमार शर्मा की एक सड़क हादसे में मौत हो गई थी। इसके बाद मां रश्मी शर्मा व बुआ हेमा शर्मा ने आशी की देखभाल की है। बेटी के हुनर को खूब प्रोत्साहन भी दिया है। गुरु नानक मिशन स्कूल पांवटा की प्रधानाचार्या देवेंद्र कौर साहनी ने कहा कि छात्रा की सफलता से स्कूल प्रबंधन बेहद खुश है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।