एनआईटी-सिलचर के छात्र ने की आत्महत्या, प्रदर्शन कर रहे 40 छात्र लाठीचार्ज में घायल #
September 16th, 2023 | Post by :- | 18 Views
NIT-Silchar: सिलचर स्थित राष्ट्रीय तकनीकी संस्थान (NIT) के तीसरे वर्ष के छात्र ने परिसर में कथित तौर पर आत्महत्या कर ली। अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी। अधिकारियों ने शनिवार बताया कि आत्महत्या के बाद छात्र के सहपाठियों ने प्रदर्शन शुरू कर दिया, जो कुछ समय बाद उग्र हो गया जिससे पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा और इसमें 40 लोग घायल हो गए।
मूल रूप से अरुणाचल प्रदेश के रहने वाले छात्र का शव शुक्रवार शाम उसके छात्रावास के कमरे में लटका मिला। उसके सहपाठियों ने आरोप लगाया कि कॉलेज प्रशासन के कारण उसे आत्महत्या करने के लिए मजबूर होना पड़ा, उन्होंने पुलिस को शव उतारने से रोक दिया। पुलिस किसी तरह 2 घंटे बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज पाई लेकिन छात्रों ने परिसर में ‘डीन ऑफ अकेडमिक्स’ बी के रॉय के आधिकारिक निवास पर प्रदर्शन शुरू कर दिया।
छात्रों ने आरोप लगाया कि रॉय ने मृतक की बेइज्जती की थी, जो पहले सेमेस्टर की परिक्षाओं में 6 विषयों में उत्तीर्ण नहीं हो पाया था। ये परीक्षाएं वर्ष 2021 में महामारी के कारण ऑनलाइन हुई थीं। छात्रों ने दावा किया कि लॉकडाउन के कारण वह घर पर था और इंटरनेट की कमी होने के कारण ‘ऑनलाइन क्लास’ नहीं ले पाया और उत्तीर्ण नहीं हो पाया।
उन्होंने बताया कि मृतक ने प्रशासन से उसके लिए विशेष परीक्षाएं आयोजित करने के लिए कहा था जिससे वह उत्तीर्ण हो सके लेकिन रॉय ने उसकी बेइज्जती की। इसके बाद छात्र ने आत्महत्या कर ली। कछार के पुलिस अधीक्षक (एसपी) नुमल महत्ता ने बताया कि छात्र की मौत पर विरोध बढ़ गया था और सहपाठियों ने कथित तौर पर रॉय के आवास में तोड़फोड़ की।
अधिकारियों ने बताया कि इस पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया जिसमें 40 छात्र घायल हुए हैं जिन्हें सिलचर मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इनमें से कुछ छात्रों की हालत गंभीर है। एनआईटी-सिलचर के निदेशक दिलीप कुमार बैद्य ने बताया कि उन्हें मृतक छात्र के प्रति संवेदनाएं हैं। उन्होंने कहा कि कुछ छात्र परीक्षाओं में फेल हो जाते हैं और अनुचित मांग करने लगते हैं।
काछर जिले के आयुक्त रोहन कुमार झा ने परिसर का दौरा कर मामले की जांच के लिए एक समिति बनाई है। छात्रों ने कहा कि वे लोकतांत्रिक ढंग से अपना प्रदर्शन जारी रखेंगे। एक प्रदर्शनकारी ने कहा कि प्रशासन के गलत फैसलों के चलते हमारे एक सहपाठी की जान गई है। हम न्याय मिलने तक प्रदर्शन जारी रखेंगे। एसपी ने बताया कि परिसर में केंद्रीय पुलिस रिजर्व बल की एक कंपनी के साथ पुलिस की एक बड़ी टुकड़ी तैनात की गई है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।