भारतीय सैन्य कॉलेज में एडमिशन के लिए 15 अक्तूबर से पहले करें आवेदन, 3 दिसम्बर को होगी प्रवेश परीक्षा #news4
July 29th, 2022 | Post by :- | 86 Views

धर्मशाला : राष्ट्रीय भारतीय सैन्य कॉलेज देहरादून के जुलाई, 2023 के सत्र की 8वीं कक्षा में प्रवेश के लिए आवेदन की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। कॉलेज में एडमिशन के लिए आवेदन करने वालें उम्मीदवारों की लिखित प्रवेश योग्यता परीक्षा 3 दिसम्बर को देश के कुछ चुने हुए केन्द्रों में होगी। आरआईएमसी सैन्य प्रशिक्षण निदेशालय के लैफ्टिनैंट कर्नल अभिषेक राणा ने बताया कि आवेदन पत्र और विवरण पत्रिका एवं पुराने प्रश्न पत्र राष्ट्रीय भारतीय सैन्य कॉलेज गढ़ी कैंट देहरादून से प्राप्त कर सकते हैं। सामान्य वर्ग के उम्मीदवार 600 रुपए जबकि अनुसूचित वर्ग के उम्मीदवार 555 रुपए का भुगतान कर आवेदन पत्र व विवरण पत्रिका का सैट प्राप्त कर सकते हैैं। बैंक ड्राफ्ट कमांडैंट, राष्ट्रीय भारतीय सैन्य कॉलेज, देहरादून, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, तेल भवन देहरादून के नाम से भुगतान करके प्राप्त किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि विवरण पत्रिका आरआईएमसी की वैबसाइट से ऑनलाइन भुगतान करके भी प्राप्त कर सकते हैं। उम्मीदवार को 15 अक्तूबर से पहले आवेदन करना होगा।

स्पीड पोस्ट से भेजना होगा आवेदन पत्र 
उन्होंने बताया कि अनुसूचित वर्ग एवं अनुसूचित जनजाति के उम्मीदवार के लिए वर्ग प्रमाण पत्र की सत्यापित छायाप्रति भेजना अनिवार्य हैै। आवेदन पत्र स्पीड पोस्ट से भेजा जाएगा। आवेदक हिन्दी अथवा अंग्रेजी में अपना पत्र व्यवहार का पूरा पता, पोस्टल पिन कोड तथा फोन नम्बर के साथ लिख कर भेजें। आरआईएमसी देहरादून में प्रवेश पाने के लिए केवल छात्र और छात्राएं दोनों ही आवेदन के पात्र हैं। जुलाई, 2023 के सत्र में प्रवेश के लिए उम्मीदवार को प्रवेश के समय 1 जुलाई, 2023 को उम्मीदवार की आयु 11 वर्ष 6 माह से कम और 13 वर्ष से अधिक नहीं चाहिए। उम्मीदवार का जन्म 2 जुलाई, 2010 के पहले और 1 जनवरी, 2012 के बाद नहीं होना चाहिए। उन्होंने बताया कि उम्मीदवारों की परीक्षा 3 विषयों अंग्रेजी, गणित और सामान्य ज्ञान में ली जाएगी। 3 दिसम्बर को गणित की परीक्षा प्रात: 9:30 से 11 बजे तक होगी जबकि सामान्य ज्ञान की परीक्षा दोपहर 12 से 1 बजे तक होगी तथा अंग्रेजी की परीक्षा 2:30 से 4:30 बजे तक को होगी।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।