तहसीलदार न मिलने से काम करवाने के लिए भटकते रहे लोग #news4
September 24th, 2022 | Post by :- | 93 Views

घुमारवीं : सरकार द्वारा मांगों को न माने जाने के विरोध में प्रदेश के सभी राजस्व अधिकारियों का एक साथ आगामी सोमवार तक छुट्टी पर चले जाने के बाद लोगों को भी भारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। यही हाल घुमारवीं में भी रहा। तहसीलदार तथा नायब तहसीलदार के दफ्तरों के बाहर लोगों की भीड़ तो दिखी, लेकिन अंदर सन्नाटा पसरा हुआ था। शनिवार को राजस्व अधिकारियों में तहसीलदार व नायब तहसीलदारों के तीन दिन के अवकाश पर चले जाने के बाद लोगों के प्रमाणपत्र बनवाने व जमीन से संबंधित जरूरी काम नहीं हो पाए। दूरदराज के क्षेत्रों से आए लोग अपना काम करवाने के लिए इधर-उधर भटकते रहे। ज्यादातर लोगों को मालूम नहीं था कि सभी राजस्व अधिकारी अवकाश पर हैं।

एसडीएम घुमारवीं राजीव ठाकुर ने कहा कि ऐसे में लोगों को बिना काम हुए ही निराश लौटना पड़ा। सभी राजस्व अधिकारियों का विरोध स्वरूप छुट्टी पर जाने से लोगों को तो मुश्किल उठानी ही पड़ी, साथ ही सरकार को भी आर्थिक नुकसान उठाना पड़ा। इन अधिकारियों के सामूहिक अवकाश पर चले जाने की वजह से न तो कोई वसीहत हुई और न ही जमीन की रजिस्ट्री संबंधी कार्य हो पाए। लोगों के जाति प्रमाणपत्र, हिमाचली प्रमाणपत्र, आय प्रमाणपत्र जैसे कोई जरूरी काम भी नहीं हुए। महासंघ का कहना है कि अगर फिर भी मांगों पर कोई विचार न किया गया तो आगामी पहली अक्टूबर से प्रदेशभर के राजस्व अधिकारियों को अनिश्चितकाल के लिए सामूहिक अवकाश पर जाने के लिए बाध्य होना पड़ेगा। सभी राजस्व अधिकारियों का सामूहिक अवकाश पर चले जाने के बाद लोगों की दिक्कतें बढ़ी हैैं। फिर भी हम कोशिश कर रहे हैं कि अगर किसी को बहुत ही जरूरी परिस्थिति में कोई प्रमाणपत्र बनवाना हो तो वह उसके लिए सीधे आफिस में आकर संपर्क कर सकता है।

कृपया अपनी खबरें, सूचनाएं या फिर शिकायतें सीधे news4himachal@gmail.com पर भेजें। इस वेबसाइट पर प्रकाशित लेख लेखकों, ब्लॉगरों और संवाद सूत्रों के निजी विचार हैं। मीडिया के हर पहलू को जनता के दरबार में ला खड़ा करने के लिए यह एक सार्वजनिक मंच है।